Megapixel Kya Hota Hai मेगापिक्सल क्या होता है, पूरी जानकारी

Megapixel Kya Hota Hai, वैसे तो किसी स्मार्टफोन के बहुत सारे फीचर्स होते हैं लेकिन एक फीचर ऐसा है जो किसी भी स्मार्टफोन को खास बनाता है।

और वह फीचर है स्मार्टफोन का कैमरा, किसी भी फोन का कैमरा जितना अच्छा होता है उसको उतनी ही पब्लिसिटी मिलती है तथा साथ ही यह एक ऐसा फीचर है जिसमें किसी भी स्मार्टफोन की पावर का पता चलता है।

बाकी कोई भी फीचर हो और स्मार्टफोन में आसानी से दिया जा सकता है और एक दूसरे से बेहतर किया जा सकता है लेकिन कैमरे के मामले में यह मामला कुछ अलग हो जाता है।

Hello Dosto, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम बात करेंगे स्मार्टफोन के कैमरा के मेगापिक्सेल के बारे में मेगापिक्सल क्या होता है Megapixel Kya Hota Hai, इसे कैसे निर्धारित करते है और इस फीचर का कैमरे में क्या काम होता है? साथ ही इससे जुड़े कुछ अन्य चीजों के बारे में भी।

Megapixel Kya Hota Hai? –

Megapixel Kya Hota Hai, स्मार्टफोन के मेगापिक्सल को समझने से पहले सबसे पहले हम पिक्सल को समझते हैं…

जब भी हम किसी स्मार्टफोन पर कोई तस्वीर देखते हैं तो वह छोटे-छोटे डॉट से मिलकर बनी होती है इस छोटे-छोटे डॉट्स ही मिलकर किसी इमेज को बनाते हैं।

Megapixel Kya Hota Hai समझने के लिए उदाहरण के तौर पर आप इस नीचे इस इमेज को देखें….

Megapixel Kya Hota Hai
Megapixel Kya Hota Hai

इस इमेज में अलग-अलग डॉट्स दिख रहे हैं और वह एक ग्रिड के लेआउट में व्यवस्थित है, अगर ध्यान से देखें तो हर डॉट का एक अपना कलर है और सभी डॉट्स एक साथ मिलकर इमेज बना रहे है।

इस ग्रिड में मौजूद सिंगल डॉट को पिक्सल कहा जाता है तो किसी भी इमेज में जितने ज्यादा पिक्सल होते हैं इमेज का साइज इतना बड़ा होता है साथ ही उसकी क्लेरिटी भी उतनी ही ज्यादा होती है।

टेक्निकल टर्म में किसी भी इमेज की क्वालिटी को नापने के लिए पिक्सल का प्रयोग किया जाता है और इसके लिए इस इमेज में मौजूद पिक्सल को गिना जाता है जो की ऊंचाई और लंबाई में व्यवस्थित क्रम में लगे हुए होते हैं।

अगर उदाहरण के तौर पर ऊपर दी गई इमेज की बात करें तो इसमें 1280 x 720 के रिजॉल्यूशन में पिक्सल्स लगे हुए हैं तो कुल मिलाकर 9,21,600 पिक्सल होते हैं।

Megapixel Kya Hota Hai
Megapixel Kya Hota Hai

पिक्सल किसी भी इमेज कि क्वालिटी को मापने की एक यूनिट है, यह इमेज की एक इकाई होती है, किसी भी इमेज के एक पिक्सेल में कलर और ग्रे स्केल की डिटेल्स रहती है।

पिक्सल शब्द, दो शब्दों “Picture” और “Element” से मिलकर बना है, जहां Picture का मतलब “Image” और Element का मतलब “Details” होता है।

इमेज के लिए पहली बार इस शब्द का प्रयोग, वर्ष 1965 में अमेरिका के प्रसिद्ध फोटोग्राफर जेपीएल के फ्रेडरिक सी. बिलिंग्सले के द्वारा प्रयोग किया गया, इसके बाद से यह शब्द प्रचलन में आया।

Megapixel Meaning In Hindi –

Megapixel Kya Hai, तो जब भी हम किसी इमेज को क्लिक करते है तो लाइट सबसे पहले सेंसर पर पड़ती है, सेन्सर में मौजूद पिक्सेल रिसेप्टर कुछ सेकंड के लिए लेंस से आ रही लाइट को कैप्चर करते है और उसे एक डेटा में बदल कर प्रोसेसिंग यूनिट में भेज देते है।

जिस तरह से हम किसी इमेज को देखते है तो वो पिक्सेल के ग्रिड से बनी होती है उसी तरह चाहे स्मार्टफोन हो या DSLR इन सभी के सेन्सर में छोटे-छोटे पिक्सेल लगे होते है जो लाइट को कैप्चर करके उसे बाइनरी डेटा में बदल देते है।

अब इस सेंसर पर जितनी अधिक मात्रा में पिक्सेल लगे होते है कैमरा उतना ही ज्यादा पिक्सेल का होता है।

मेगापिक्सल क्या होता है? –

Megapixel Kya Hota Hai इसके बारे में बात करें तो मेगापिक्सेल शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है, मेगा + पिक्सेल इसमें पिक्सेल के बारे में हमने जान लिया।

यहाँ पर मेगा का अर्थ होता है, 10 लाख या 1 मिलियन, यदि कोई इमेज 1 मेगापिक्सेल की है तो उसमें 10 लाख पिक्सेल या 1 मिलियन पिक्सेल होते है।

ये मिलियन पिक्सेल इमेज की लंबाई तथा चौड़ाई में ग्रिड में व्यवस्थित रहते है, जैसा कि हमने पहले भी बात की है।

और इसी तरह से 10 लाख पिक्सेल से जितने ज्यादा पिक्सेल्स होते हैं इमेज उतने ही मेगापिक्सल में अकाउंट होती है।

तो यदि किसी इमेज में 50 लाख पिक्सल है तो वह इमेज 5 मेगापिक्सल की काउंट की जाती है।

यदि 25 लाख पिक्सेल (2.5 मिलियन) पिक्सेल्स है तो 2.5 मेगापिक्सेल और इसी तरह अगर 100 लाख (10 मिलियन) पिक्सेल्स है तो इमेज 10 मेगापिक्सेल की मानी जाती है।

इमेज सेंसर क्या होता है? –

इमेज सेंसर कैमरे के मॉड्यूल का एक महत्वपूर्ण भाग होता है, इमेज सेंसर को हिंदी में छवि संवेदक भी कहा जाता है।

जब भी हम किसी स्मार्टफोन या DSLR या किसी भी कैमरे से विडिओ या फोटो शूट करते है, तो लाइट सबसे पहले सेंसर पर ही पड़ती है।

यहाँ से सेंसर में लगे फोटो रिसेप्टर लाइट को कैप्चर करके प्रोसेसिंग चिप को ट्रांसफर कर देते है।

जिसके बाद इमेज या विडिओ प्रोसेस होने के बाद हमें स्क्रीन पर दिखाई देती है।

पुराने कैमरों में सेंसर की जगह पर रील का प्रयोग किया जाता था, यह रील प्रकाश के साथ रिएक्टिव होती है।

कैमरे में रील को लगाने के बाद जब शटर बटन दबाते थे तो कुछ सेकंड के लिए कैमरे के लेंस से लाइट होकर रील पर पड़ती थी।

रील, प्रकाश के लिए रिएक्टिव होने के कारण वह लाइट रील के ऊपर उल्टे रंगों में छप जाती थी, रील पर छपे इस चित्र को नेगेटिव कहा जाता था।

इसके बाद रील को कैमरे से बाहर निकाल कर पाज़िटिव इमेज प्राप्त कर ली जाती थी, जिसमें रंग बिल्कुल सही होते थे।

इमेज रिजॉल्यूशन क्या होता है? –

पिक्सेल और मेगापिक्सेल के बारे में हमने समझ लिया, तो जब भी हम किसी इमेज को क्लिक करते है, तो उसका कुछ न कुछ साइज़ अवश्य होता है, साथ ही उस इमेज की क्वालिटी भी होती है।

अब इमेज किस साइज़ और किस क्वालिटी की है इसके बारे में कुछ स्टैंडर्ड बने हुए है, जिसके आधार पर हम किसी इमेज के बारे में बता सकते है।

किसी इमेज के एक स्क्वायर इंच में मौजूद पिक्सल की संख्या को इमेज का रिजॉल्यूशन माना जाता है और इसे “PPI” यानि “Pixel Per Inch” में गिन जाता है।

किसी इमेज कि PPI डेंसीटी जितनी ज्यादा होगी वह इमेज उतनी ही ज्यादा शार्प और क्लियर होगी और उसे ज़ूम करने पर वह पिक्सलेट (फटेगी नहीं) नहीं होगी।

इमेज रिजॉल्यूशन का प्रयोग इमेज के लिए किया जाता है, सेंसर के लिए नहीं।

Megapixel Kya Hota Hai
Megapixel Kya Hota Hai

पिक्सल वैल्यू क्या होता है? –

कोई भी इमेज या तो कलर से बनी होती है या फिर ब्लैक और व्हाइट से औरिमेज को ये कलर पिक्सल से मिलती है, क्योंकि इन्हीं से इमेज का निर्माण होता है।

लाइट में कलर को दिखाने के लिए ‘Red’, ‘Green’ और ‘Blue’ होते है और ब्लैक एंड व्हाइट इमेज में ग्रे स्केल को दिखाने के लिए पिक्सल वैल्यू की दो परिस्थितियाँ होती है।

यदि पिक्सल ऑफ है तो वहाँ उसकी वैल्यू 0 होती और उस पिक्सल में लाइट नहीं होती, जिससे वहाँ काला रंग दिखाई पड़ता है।

यदि पिक्सेल ऑन है तो उसकी वैल्यू 1 होती है, इस स्थिति में पिक्सल में लाइट जलती है और वह पिक्सल कोई न कोई रंग दिखाता है, Megapixel Kya Hai

अधिक मेगापिक्सेल के फायदे –

1. ज्यादा मेगापिक्सेल होने से इमेज का साइज़ बाद होता है, उसे बड़े कैनवास पर प्रिन्ट किया जा सकता है।

2. ज्यादा मेगापिक्सेल की इमेज को ज़ूम करने पर वह फटती नहीं या पिक्सलेट नहीं होती है।

3. ज्यादा मेगापिक्सेल की इमेज पोस्ट प्रोसेसिंग या एडिटिंग में हेल्प्फल होती है, क्योंकि इसमें डिटेल्स ज्यादा होते है तो ज्यादा बेहतर एडिटिंग की जा सकती है।

4. अधिक मेगापिक्सेल के होने से इमेज को क्रॉप करने पर भी डिटेल्स सुरक्षित रहते है और देखने में सुंदर लगती है।

5. आजकल स्मार्टफोन फोटोग्राफी में भी RAW फॉर्मैट प्रसिद्ध हो गया है, जिसमें स्मार्टफोन मेगापिक्सेल के साथ साथ अन्य डिटेल्स भी कैप्चर करता है, जिससे कि बाद में RAW इमेज को, नॉर्मल इमेज की तुलना में ज्यादा बेहतर तरीके से एडिट किया जा सकता है।

ज्यादा मेगापिक्सेल के नुकसान –

1. आजकल ज्यादातर स्मार्टफोन केवल मेगापिक्सेल (Megapixel Kya Hota Hai) पर फोकस करके ब्रांडिंग करते है, जो कि सही नहीं है, ज्यादा मेगापिक्सेल के कारण एक अच्छी तस्वीर ले सकते है लेकिन एक क्वालिटी इमेज नहीं।

2. ज्यादा मेगापिक्सेल का कैमरा ज्यादा पावरफुल प्रोसेसर की डिमांड करता है, जिस कारण से स्मार्टफोन की कीमत बढ़ जाती है।

3. ज्यादा मेगापिक्सेल होने से अच्छी इमेज नहीं आती, इसके साथ कैमरे के सेंसर का साइज़ भी महत्वपूर्ण होते है, जितना बड़ा सेन्सर होगा इमेज की क्वालिटी उतनी ही बेहतर होगी।

4. ज्यादा मेगापिक्सेल की इमेज का साइज़ भी ज्यादा होता है, अगर नॉर्मल इमेज भी क्लिक करते है तो यह बहुत ज्यादा जगह घेरता है, प्रो मोड में तो यह काफी ज्यादा जगह लेता है, इसलिए फोन की स्टोरेज बहुत जल्दी भर जाती है।

मेगापिक्सल इमेज साइज़ –

2 Megapixel1 MB
5 Megapixel2.2 MB
8 Megapixel3 MB
10 Megapixel3.8 MB
12 Megapixel4.5 MB
16 Megapixel5 MB
18 Megapixel6.5 MB
24 Megapixel8 MB
48 Megapixel10.5 MB
64 Megapixel20 MB
108 Megapixel32 MB

ऊपर दिए गए चार्ट में ये लगभग (Aprox) इमेज साइज़ है, आमतौर पर इमेज का साइज़ इसके आसपास ही रहता है।

एक ही मेगापिक्सेल की इमेज अलग-अलग ब्रांड के फोन अलग-अलग साइज़ में क्लिक कर सकते है।

इसके साथ ही नॉर्मल मोड और प्रो मोड में क्लिक किए गए इमेज का साइज़ अलग-अलग होता है।

मेगापिक्सल इमेज प्रिन्ट साइज़ –

कैमरे के ज्यादा मेगापिक्सल का सबसे बाद फायदा ये है कि इससे ज्यादा बड़े प्रिन्ट निकले जा सकते है।

जो काम कुछ साल पहले तक केवल DSLR कैमरे से ही हो सकता था, अब यह स्मार्टफोन से भी संभव होने लगा है, ज्यादा मेगापिक्सल होने के कारण।

मीडिया और एडवर्टाइजिंग इंडस्ट्री में बड़े साइज़ की तस्वीरों की जरूरत पड़ती है, जबकि पर्सनल यूज के लिए बड़े साइज़ के इमेज की जरूरत नहीं पड़ती।

नीचे टेबल में देख सकते है कि कितने मेगापिक्सल (Megapixel Kya Hai) की इमेज से कितने साइज़ की इमेज निकाली जा सकती है।

MegapixelPixel Resolution*Print Size @ 300ppiPrint size @ 200ppiPrint size @ 150ppi**
3 MP2048 x 15366.82″ x 5.12″10.24″x 7.68″13.65″ x 10.24″
4 MP2464 x 16328.21″ x 5.44″12.32″ x 8.16″16.42″ x 10.88″
6 MP3008 x 200010.02″ x 6.67″15.04″ x 10.00″20.05″ x 13.34″
8 MP3264 x 244810.88″ x 8.16″16.32″ x 12.24″21.76″ x 16.32″
10 MP3872 x 259212.91″ x 8.64″19.36″ x 12.96″25.81″ x 17.28″
12 MP4290 x 280014.30″ x 9.34″21.45″ x 14.00″28.60″ x 18.67″
16 MP4920 x 326416.40″ x 10.88″24.60″ x 16.32″32.80″ x 21.76″

मानव आँख कितने मेगापिक्सल की होती है?

इंसान की आँख 576 मेगापिक्सल के बराबर होती है, हालांकि हमारी आँखें हमेशा इसी रिजॉल्यूशन में नहीं देखती है, जब हम किसी चीज को ध्यान से देखते है तभी अपनी आँखों कि पूर्ण क्षमता का उपयोग करते है।

कितने मेगापिक्सल का कैमरा अच्छा होता है?

केवल मेगापिक्सल से कोई कैमरा अच्छा या बुरा नहीं होता है, साथ में सेंसर का साइज़ भी मैटर करता है, जितना बाद सेंसर होगा उतनी ही ज्यादा डिटेल्स इमेज में देखने को मिलती है।

1 मेगापिक्सल में कितने पिक्सल होते है?

1 मेगापिक्सल में 10 लाख पिक्सल या 1 मिलियन पिक्सल होते है।

नॉर्मल यूज के लिए कितने मेगापिक्सल का कैमरा सही है?

यदि आप साधारण या कई स्थितियों में प्रोफेशनल यूज के लिए भी कैमरा यूज करना चाहते है तो, 12 मेगापिक्सल का कैमरा पर्याप्त है, क्योंकि 12 मेगापिक्सल के कैमरे से 4K विडिओ रिकार्ड की जा सकती है, जो अभी के समय में इंडस्ट्री स्टैंडर्ड है।

इमेज से कैमरे के मेगापिक्सल का पता कैसे लगाए?

किसी फोन से क्लिक की गई बिना एडिट की गई फोटो के लंबाई तथा चौड़ाई के पिक्सेल को गुणा करने के बाद 10 लाख से भाग देने पर कैमरे के मेगापिक्सल का पता लगे जा सकता है।
यदि किसी इमेज कि लंबाई और चौड़ाई 4,000 x 3,000 = 12,000,000 पिक्सल है तब वह कैमरा 12 मेगापिक्सल का है।

Summary –

आज के समय में ज्यादा मेगापिक्सेल होने के कारण स्मार्टफोन अच्छी तस्वीरे ले पाते है, लेकिन DSLR की तुलना में पीछे ही है।

लेकिन जिस तरह से स्मार्टफोन में बड़े साइज़ के सेन्सर आ रहे है, आने वाले समय में ये DSLR को पीछे छोड़ देंगे।

तो दोस्तों मेगापिक्सल क्या होता है, Megapixel Kya Hota Hai इसके बारे में आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे जरूर बताए, अगर मेगापिक्सल से संबंधित आपका कोई सवाल या सुझाव है तो उसे भी लिखें, इस आर्टिकल को दोस्तों के साथ शेयर करें, Thank You 🙂

यह आर्टिकल भी पढ़ें –

A Student 📚, Digital Content Creator, Passion in Photography. इस ब्लॉग पर आपको टेक्नॉलजी, फाइनेंस और पैसे कमाने के तरीके से संबंधित टॉपिक्स पर जानकारियाँ मिलती रहेंगी, हमारे साथ जुड़ें - यूट्यूब, फ़ेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर

Leave a Comment

Latest Posts

Home     About Us    Contact Us    Privecy Policy    T&C    Disclaimer    DMCA